बाजार से किचन तक लाए गए कुछ ऐसे सामान हैं जिनको फ्रिज में नहीं रखना चाहिए.

फ्रिज में रखने से खाने के सामानों के रंग, बनावट और स्वाद में फर्क आ जाता है.

आम तौर पर बाजार से लाए हुए सामान को कुछ दिनों तक ताजा रखने का बेहतरीन माध्यम फ्रिज माना जाता है. मगर कुछ ऐसे सामान होते हैं जिनको फ्रिज में रखने से स्वाद और बनावट जल्दी खत्म हो जाते हैं. उनका रंग काला पड़ जाता है. आइए जानते हैं खानेवाले किन सामानों को फ्रिज के हवाले नहीं करना चाहिए.

किन सामानों को फ्रिज के हवाले नहीं करना चाहिए

केला- पका हुआ केल फ्रिज में कुछ दिनों तक अपनी स्थिति में बरकरार रह सकता है. मगर थोड़ा कच्चा और सख्त केला फ्रिज में नहीं पकेगा. फ्रिज से निकालने के बाद केले की ऊपरी सतह काली हो जाएगी. केला ऊष्णकटिबंधीय फल होता है. केले के सेल की दिवारों में ठंड से बचाव का कोई प्राकृतिक सुरक्षा कवच नहीं होता है. जिससे केला ठंडे तापमान के कारण ढीला पड़ने लगता है.

लहसुन- लहसुन को प्लास्टिक बैग या फ्रिज में रखने से फफूंदयुक्त हो कर ढीला पड़ने लगता है. लहसुन को सुरक्षित रखने का सबसे अच्छा तरीका कमरे के तापमान पर सूखे या अंधेरी जगह में रखकर ताजा रखा सकता है. कमरा ऐसा होना चाहिए जिसमें हवा के निकासी के लिए मामूली रोशनी हो.

ब्रेड- रेफ्रिजेरेटर ब्रेड के लिए फायदेमंद नहीं होता है. ब्रेड को फ्रीज में ठंडा रखने से उसका स्वाद प्रभावित होता है. ठंडा तापमान स्टार्च का कारण बनता है. फ्रिज में ब्रेड रखने से सूख जाता है.

आलू- आलू को सूखी और ठंडी जगह में रखा जा सकता है. फ्रिज में आलू के रखने से उसका स्टार्च शक्कर में बदल सकता है. जिससे उसकी बनावट में फर्क पड़ेगा और रंगहीन होने का कारण बनेगा. ऐसी स्थिति में पकाए जाने पर उसका स्वाद मीठा लगेगा. आलू के लिए 45 डिग्री का तापमान सबसे अच्छा माना जाता है.