• श्रद्धा कपूर, अनुष्का शर्मा, आलिया भट्ट, जॉन अब्राहम, वरुण धवन, दीया मिर्जा जैसे सितारों ने गुस्सा जताया
  • गायिका हर्षदीप कौर ने लिखा, एक गर्भवती हथिनी इंसानों के हाथ मारी गई… नहीं नहीं रुकिए… ये काम शैतानों ने किया।’

केरल में एक गर्भवती हथिनी को पाइनेपल फल में पटाखे रखकर देने और इसके बाद उसकी मौत होने की घटना सामने आई है। ये मामला उत्तरी केरल के मलप्पुरम जिले का है जहां कुछ लोगों ने खाने की तलाश में जंगल से भटकर आई हथिनी को पटाखों से भरे अनानास खिला दिए। धमाके की वजह से उसका मुंह और सूंड बुरी तरह जख्मी हो गए, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बाद पता चला कि हथिनी के पेट में नन्हा सा बच्चा पल रहा था और वह भी इस हैवानियत का शिकार हो गया।

इस घटना को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स और बॉलीवुड सितारों में भी जमकर गुस्सा देखा जा रहा है। ट्विटर पर #RIPHumanity और #Elephant जैसे हैशटेग के जरिये यूजर्स अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।

बॉलीवुड में श्रद्धा कपूर, अनुष्का शर्मा, आलिया भट्ट, जॉन अब्राहम, वरुण धवन, दीया मिर्जा, सोनाली बेंद्रे, डायना पेंटी, कृति खरबंदा, पुलकित सम्राट जैसे सितारों ने भी इस मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की है।

अनुष्का ने कड़े कानून की जरूरत बताई

अनुष्का ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर इस खबर का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा, ‘यही वो वजह है जिसके लिए हमें पशु क्रूरता के खिलाफ कड़े कानूनों की जरूरत है।’ अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट के साथ उन्होंने लिखा, ‘हम सभी केरल के मुख्यमंत्री से निवेदन करते हैं कि दोषियों का पता लगाया जाए और उन्हें इस घृणित अपराध के लिए कानून के मुताबिक सजा दी जाए।’

अक्षय बोले- इंसानों में इंसानियत कम हुई

अक्षय कुमार ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘शायद जानवर कम जंगली हो गए हैं और इंसानों में इंसानियत कम हो गई है। उस हथिनी के साथ जो कुछ भी हुआ वो दिल दहला देने वाला, अमानवीय और अस्वीकार्य है। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। #हर जीवन मायने रखता है’

जॉन ने लिखा- शर्म आ रही है

जॉन अब्राहम ने इस खबर का एक स्क्रीनशॉट शेयर उस हथिनी के कुछ फोटोज शेयर करते हुए लिखा, ‘लानत है हम पर, मनुष्य होने पर शर्म आ रही है।’ अपनी इस पोस्ट को उन्होंने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को भी टैग किया।

हर्षदीप कौर और पलक मुछाल ने भी गुस्सा जताया

गायिका हर्षदीप कौर ने लिखा, ‘क्या सह-अस्तिस्व के साथ रहना इतना मुश्किल है? एक गर्भवती हथिनी इंसानों के हाथ मारी गई… नहीं नहीं रुकिए… ये काम शैतानों ने किया।’

अनुष्का शर्मा, आलिया भट्ट और नुपूर सेनन ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर भी गुस्सा जताया।

अन्य सेलेब्स ने शेयर की एक जैसी पोस्ट

इस घटना को लेकर विरोध जताने के लिए श्रद्धा कपूर समेत अन्य स्टार्स ने भी ‘टेड द स्टोनर’ नाम के इंस्टाग्राम अकाउंट की पोस्ट को रीपोस्ट किया और दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की। श्रद्धा के अलावा अनुष्का शर्मा, आलिया भट्ट, वरुण धवन, दीया मिर्जा और नुपूर सेनन जैसे सितारों ने भी इसी पोस्ट को शेयर किया।

क्या है उस पोस्ट में?

इन सितारों ने जो पोस्ट शेयर की, स्केच के जरिए बने एक आर्टवर्क के साथ उस हथिनी की पूरी कहानी को बताया गया है। उस आर्टवर्क में हथिनी और उसके गर्भ में मौजूद बच्चे के बीच काल्पनिक लेकिन बेहद मार्मिक बातचीत को भी दिखाया गया है। जिसमें हथिनी बच्चे से कहती है कि ‘उन्होंने हमें खाना दिया है बेटा’, तो वो बच्चा कहता है, ‘इंसान कितने अच्छे होते हैं मां।’

27 मई को हुई थी हथिनी की मौत

फिल्म स्टार्स समेत देशभर के लोगों में ये गुस्सा केरल के मल्लपुरम में पिछले बुधवार एक गर्भवती हथिनी की हुई मौत के बाद पनपा है। भूख से परेशान ये हथिनी सड़कों पर खाना तलाशते हुए पास के गांव में पहुंच गई, जहां किसी ने पाइनापल में पटाखे भरकर उसे खाने के लिए दे दिया। वे पटाखे उसके मुंह में फट गए, जिससे उसकी जीभ और मुंह बुरी तरह जख्मी हो गया। और इन जख्मों की वजह से उसका खाना-पीना बंद हो गया था और वो दर्द और भूख की वजह से बुरी तरह तड़पते हुए गांव में इधर उधर भटकती रही। हालांकि इसके बाद भी उसने किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया।

मौत आने तक मुंह डुबोकर पानी में खड़ी रही हथिनी

वो जैसे तैसे वहां स्थित वेलियार नदी तक जा पहुंची और उसमें जाकर खड़ी हो गई। उसने खुद को मुंह तक पानी में डुबो लिया, शायद इससे उसके जख्मों को कुछ आराम मिल रहा था। वन विभाग को जब इस घटना के बारे में पता चला तो उसने उसे पानी से बाहर लाने की बहुत कोशिश की, लेकिन हथिनी बाहर नहीं निकली। और इसके बाद कुछ ही घंटों में नदी में खड़े-खड़े उसने दम तोड़ दिया। वन विभाग के जिस अधिकारी के सामने यह घटना हुई, उन्होंने इसके बारे में सोशल मीडिया पर लिखा। जिसके बाद लोगों को इसका पता चला। इस मामले में केरल के वन विभाग ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और जल्द ही उनका पता लगाकर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है।