Hanuman Chalisa: कोरोना वायरस (Coronavirus) से बचने के लिए लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गई है. ऐसे में घर पर रहने वाले लोगों के लिए हनुमान चालीसा का पाठ बहुत ही लाभकारी हो सकता है.

Sankat Mochan Hanuman Chalisa: मंगलवार का दिन हनुमान जी को समर्पित है. इस दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से कई प्रकार के संकटों से निजात मिलती है. इस समय कोरोना वायरस (Coronavirus) एक विशाल संकट के रूप में पूरी दुनिया पर मंडरा रहा है. भारत भी इस महामारी से अछूता नहीं है. लॉकडाउन के चलते लोग घरों में अपने आप को सुरक्षित किए हुए हैं. ऐसे में हनुमान चालीसा का पाठ लोगों को जहां मन की शांति प्रदान करेगा. वहीं इस संकट से उभरने में आत्मविश्वास में वृद्धि करेगा. जो लोग घर पर समय व्यतीत कर रहे हैं उनके लिए मंगलवार को हनुमान चालीसा का पाठ अधिक श्रेयष्कर है.

हनुमान चालीसा क्यों पढ़ें

हनुमान चालीसा में 40 छंद होने के कारण इसे चालीसा कहा जाता है. जब मन अशांत होता है. जीवन में कोई बड़ा संकट आता है या फिर शनि की साढ़े साती और ढैय्या के प्रभाव में व्यक्ति होता है तो उसे हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करना चाहिए. ऐसा करने से इन समस्याएं कम होती हैं.

हनुमान चालीसा को लेकर मान्यता

मान्यता है कि हनुमान चालीसा पढ़ने से राम भक्त हनुमान प्रसन्न होते हैं. हनुमान चालीसा पढ़ने से व्यक्ति को सकारात्मक ऊर्जा का अनुभव होता है. और उसे अपने अंदर मौजूद गुणों को समझने में मदद करती है. जो लोग इसका पाठ नियम पूर्वक करते हैं उनमें बल- बुद्धि का विकास होता है क्योंकि हनुमान जी को बल-बुद्धि का दाता माना गया है.

हनुमान चालीसा का पाठ नित्य करने से दूर होंगे जीवन में आने वाले संकट

हनुमान चालीसा के दोहे

1- श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि।

बरनऊं रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि।।

बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार।

बल बुद्धि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार।।

2- पवन तनय संकट हरन, मंगल मूरति रूप।

राम लखन सीता सहित, हृदय बसहु सुर भूप।।

हनुमान चालीसा की विशेष चौपाई

1- विद्यावान गुनी अति चातुर।

राम काज करिबे को आतुर।।

2- सूक्ष्म रूप धरि सियहिं दिखावा।

बिकट रूप धरि लंक जरावा।।

3- लाय सजीवन लखन जियाये।

श्रीरघुबीर हरषि उर लाये।।

4- दुर्गम काज जगत के जेते।

सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते।।

5- सब सुख लहै तुम्हारी सरना।

तुम रक्षक काहू को डर ना।।