• इस महीने 8 दिन रहेंगे विवाह के शुभ मुहूर्त, 1 जुलाई को देवशयनी एकादशी से 4 महीने तक नहीं होंगे मांगलिक काम.

9 जून, मंगलवार को शुक्र ग्रह उदय हो जाएगा। इसके साथ ही मांगलिक और शुभ काम शुरू हो जाएंगे। काशी के ज्योतिषाचार्य पं. गणेश मिश्र के बताया कि पिछले महीने शनिवार 30 मई को अपनी ही राशि वृष में अस्त हो गया था। इस दौरान शुभ और मांगलिक काम बंद थे। लेकिन अब शुक्र के उदय होने के साथ ही विवाह, गृह प्रवेश और यज्ञोपवीत जैसे शुभ काम शुरू हो जाएंगे। पं. मिश्र ने बताया कि मंगलवार को सुबह 6.03 बजे पूर्व दिशा में शुक्र ग्रह के उदय होने के साथ शुभ कामों की शुरुआत हो जाएगी।
इस दौरान देवताओं के गुरु बृहस्पति भी अपने उच्च रस्मों के साथ चलायमान होने के कारण शुभ मांगलिक कार्यों में उनका आशीर्वाद रहेगा। इस दौरान 8 दिन शुभ लग्न की स्थिति बनेगी, लेकिन 29 जून को भड़ली नवमी का बड़ा योग होने से इस दिन वैवाहिक कार्यक्रमों ज्यादा रहेंगे। इसके बाद 1 जुलाई को देवशयनी एकादशी होने से अगले 4 महीने तक विवाह, सगाई और गृह प्रवेश जैसे मांगलिक काम नहीं किए जा सकेंगे। 25 नवंबर को देव प्रबोधिनी एकादशी फिर से शुभ कार्य शुरू होंगे।

उदय होने से मिलने लगेंगे इसके शुभ प्रभाव
शुक्र ग्रह के अपनी ही राशि वृष में उदय होने से इसके शुभ फल मिलने लगेंगे। ये ग्रह वैवाहिक जीवन, सुख और भोग विलास का कारक है। इसके उदय होने के प्रभाव से दांपत्य सुख बढ़ेगा। कुछ लोगों की सेहत संबंधी परेशानी भी दूर हो जाएगी।

इस साल में विवाह के शुभ मुहूर्त
जून -11, 13, 15, 16, 25, 27, 29 व 30
नवंबर- 25, 27 व 30
दिसंबर- एक, 7, 9, 10 व 11 दिसंबर तक शुभ मुहूर्त है।